geet

Hindi geet

  नदी बोली समन्दर से, मैं तेरे पास आई हूँ। मुझे भी गा मेरे शायर,