best sayari

best hindi kavita

ताज तेरे लिए इक मज़हर-ए-उलफत ही सही तुम को इस वादी-ए-रँगीं से अक़ीदत ही सही